भारत में पिछले कुछ वर्षों में स्टार्ट-अप का चलन बढ़ा है. देश के ज्यादातर स्टार्ट-अप बेंगलुरु, हैदराबाद, पुणे, चेन्नई, दिल्ली, मुंबई और नॉएडा जैसे शहरों से निकल रहे हैं. इन जगहों में एक चीज़ कॉमन हैं, स्टार्टअप शुरू करने के लिए इकोसिस्टम. प्रशासन के साथ ही बेहतर कनेक्टिविटी, इंफ्रास्ट्रक्चर और इंटरनेट की सुविधाओं से युक्त ऑफिस हैं. देश में को-वर्किंग स्पेस का चलन बढ़ा हैं क्योंकि इसके जरिये आपको खुद की बिल्डिंग या ऑफिस नहीं बनानी पड़ती हैं जबकि आप केवल किराये के रूप में सुविधाओं का उपयोग कर सकते हैं.

देश के टियर-2 & 3 शहरों में भी प्रतिभा की कमी नहीं हैं लेकिन बड़े शहरों के सामने इंफ्रास्ट्रक्चर के कारण ही मात खा जाते हैं. इसी कमी को दूर करने के लिए पटना के युवाओं ने को-वर्किंग स्पेस शुरू किया हैं. वो ऑफिस के साथ ही इंटरनेट, कांफ्रेंस रूम और मेंटरिंग जैसी कई सुविधाए रियायती दरों में उपलब्ध करवा रहा हैं. वर्क स्टूडियो के नाम से को-वर्किंग स्पेस उपलब्ध करवाने वाले युवा उद्यमियों का नाम हैं प्रख्यात कश्यप, राहुल सम्राट, आलोक कुमार, ईशान पॉल और सोनू सौरव.

Work Studios
वर्क स्टूडियो के को-वर्क स्पेस की झलकियां

अलग-अलग स्टार्ट-अप चलाने वाले दोस्तों ने मिलकर पटना और रांची जैसे शहरों में ऑफिस स्पेस के नए अवतार : को-वर्किंग को शुरू किया हैं. स्टार्ट-अप के सामने आपने वाली समस्याओं को हल करने के लिए पांचों दोस्तों ने मिलकर नए वेंचर की शुरुआत की. वर्क स्टूडियोज टीम स्टार्ट-अप इंडस्ट्री को मदद करने के लिए काम कर रही हैं.

वर्क स्टूडियो के जरिये पटना में कम कीमतों पर जरूरत के अनुसार ऑफिस स्पेस उपलब्ध करवा रहे हैं. उनके ऑफिस स्पेस में लोगो की जरूरत के अनुसार ऑफिस स्पेस मिलता हैं जिसमे व्यक्तिगत सीट से लेकर कॉन्फ्रेंस हॉल, मीटिंग रूम, इवेंट हॉल, गेम जोन एवं इंटरनेट की बेहतरीन सुविधाए मिलती हैं. इसके चलते एक ही छत के नीचे कई स्टार्ट-अप काम कर रहे हैं.

cowork five
वर्क स्टूडियो में काम करते हुए उद्यमी

बी पॉजिटिव इंडिया से बातचीत में प्रख्यात ने बताया कि देश के बड़े शहरों में को-वर्किंग स्पेस का चलन है. हमारा मकसद हैं कि एक ही छत के नीचे उद्यमियों को ऑफिस की सारी सुविधाए मिल जाए. ऑफिस स्पेस के अभाव में लोगो को कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता हैं.

प्रख्यात कहते हैं कि पांच दोस्तों ने मिलकर यह कंपनी स्टार्ट की. हम अपना अलग-अलग स्टार्ट-अप चला रहे थे. एक इवेंट में हमारी मुलाकात हुई और इसके बाद हमने को-वर्किंग स्पेस के बारे में योजना बनाना शुरू किया. शुरुआती दौर  मुश्किल था क्योंकि बिहार जैसे राज्य के लिए ये नया कांसेप्ट था. लेकिन जब लोगो को इससे फायदा होने लगा तो लोग हमसे जुड़ते गए.

cowork three
वर्क स्टूडियो के को-वर्क स्पेस की झलकियां

वर्तमान में वर्क स्टूडियोज का बिज़नेस 3 राज्यो पटना (बिहार), रांची (झारखण्ड) एवं गुरुग्राम (हरियाणा) में चल रहा है. इस साल के अंत तक अन्य शहरों में अपनी पहुँच बनाना चाहते हैं. स्टार्टअप को हमेशा मदद करने के लिए तैयार रहने वाली वर्क स्टूडियोज टीम अब अपनी उपस्थिति देश के अन्य शहरों में भी दर्ज करवाने की योजना पर काम कर रही हैं

प्रख्यात कहते हैं कि अगर आप के पास कोई आईडिया है तो पूरी मेहनत से उसके ऊपर काम करना शुरू कर दीजिये. आईडिया को सफलता तक पहुंचाने के लिए हरदम प्रयास करिये. अगर पुरे मन से अपना आप 100% देंगे 100% सफलता भी मिलेगी.

work studio coworking patna
वर्क स्टूडियो के को-वर्क स्पेस की झलकियां

अगर आप भी वर्क स्टूडियो से जुड़ना चाहते हैं तो फेसबुक पेज से संपर्क करे !

बी पॉजिटिव इंडिया, प्रख्यात और ‘वर्क स्टूडियो‘ की पूरी टीम को भविष्य के लिए शुभकामनाए देती हैं और उम्मीद करते हैं कि आप से प्रेरणा लेकर टियर 2 & 3 शहरों से युवा अपने आईडिया पर काम करेंगे.

Comments

comments