कम पढ़े-लिखे माँ-बाप होने के बाद भी इस बच्चे ने सरकारी स्कूल से पढाई करने के बाद चार्टर्ड एकाउंटेंट्स की परीक्षा टॉप की है. पिता पेशे से टेलर हैं और मां स्कूल ड्रॉप आउट हैं. वे चार बहनों में इकलौते भाई हैं.

लेकिन मेहनत ने आज परिणाम दिखा दिया है. राजस्थान के कोटा के शादाब हुसैन (Shadab Hussain) ने देश की कठिनतम परीक्षाओं में से एक CA की परीक्षा में 800 में से 597 अंक हासिल कर देशभर में टॉप किया है.

शादाब हुसैन ने 74.63 परसेंट हासिल किए और उन्होंने कोटा यूनिवर्सिटी से B.Com किया है. माता-पिता के ज्यादा पढ़े-लिखे न होने के बावजूद शादाब ने हार्डवर्क से सीए में टॉप किया.

शादाब ने काफी रिसर्च और पूछताछ के बाद सीए बनने का लक्ष्य निर्धारित किया क्योंकि उन्हें पता था कि CA बनना आसान नहीं है.

सामान्य परिवार से आने के बाद भी उन्होंने कड़ी मेहनत से अपने पहले ही प्रयास में CA का एग्जाम क्लियर किया है. उन्होंने रोजाना 14 से 13 घंटे पढ़ाई की और दिन-रात कुछ नहीं देखा.

हुसैन के मुताबिक, पढ़ाई के दौरान वे हर तीन घंटे में 30 से 40 मिनट का ब्रेक लिया करते थे. तनाव से बचने के लिए हर रोज 2 से 3 किमी टहलते थे. एग्जाम के नजदीक आते ही दिमाग को शांत रखने के लिए पढ़ाई के घंटे कम कर दिए.

शादाब हुसैन ने अन्य छात्रों को टिप्स देते हुए बताया कि परीक्षा में सफल होने के लिए उन्होंने पूरी योजनाए बनाई. पुराने पेपर पढ़ा करते थे. तीन से चार ऐसे प्रश्न सबसे पहले देखने चाहिए जिनसे 40 अंक आ सकें और इन्हें एक घंटे में हल किया जा सके. बाकी के दो घंटे ज्यादा अंक लाने के लिए रखे जा सकते है .

अपने माता-पिता के कम शिक्षित होने के बावजूद, उन्होंने उन्हें उचित स्कूली शिक्षा देने के लिए कड़ी मेहनत की.

बी पॉजिटिव, शादाब हुसैन की सफलता पर उन्हें शुभकामनाए देता है और उम्मीद करता है कि हमारे पाठक इनसे प्रेरणा लेकर जरूर सकारात्मक करेंगे.

Comments

comments