सपने वो नहीं होते हैं, जो नींद में देखे जाते हैं। सपने तो वो होते हैं जो नींद नहीं आने देते हैं।

महान वैज्ञानिक डॉ एपीजे अब्दुल कलाम की यह पंक्तियाँ इस युवा उद्यमी पर सटीक बैठती हैं। बिहार की गिनती देश के पिछड़े राज्यों में होती है लेकिन इस राज्य का इतिहास बहुत समृद्ध रहा हैं। महात्मा बुद्ध की कर्मस्थली से लेकर प्राचीनतम विश्वविद्यालय हो या पटना में प्रसिद्ध गुरुद्वारा हो। गया, वैशाली, मुंगेर, नालंदा और पटना के साथ ही कई सारे पर्यटन स्थल हैं लेकिन जो दर्जा बिहार को देश के पर्यटन मानचित्र में मिलना चाहिए, वो अभी तक नहीं मिला हैं।

इसी कसक को ख़त्म करने के लिए एक युवां ने ट्रेवल क्षेत्र की बेहतरीन कम्पनीज में नौकरी छोड़कर बिहार यानि अपने गृह-क्षेत्र में काम करने का फैसला किया। एक तरफ बेहतरीन नौकरी एवं लाइफस्टाइल थी लेकिन दूसरी तरफ अपनी जड़ें और अपने क्षेत्र के लिए कुछ कर गुजरने का जज्बा। ट्रेवल कंपनी के जरिये बिहार को पर्यटन क्षेत्र में स्थापित करने की कोशिश कर रहे हैं कुमार रोमित रंजन

pahun tours patna
अपनी कंपनी के जरिये लोगो के यात्रा अनुभव की सुखद बना रहे हैं रोमित

रोमित रंजन ने अपनी स्टार्ट-अप Pahun Holidays & Hospitality pvt Ltd के जरिये बिहार को दुनिया से जोड़ने का बीड़ा उठाया हैं। इस कंपनी के पटना, दिल्ली और बेंगलोर में ऑफिस हैं। इस संस्था के जरिये रोमित रंजन भारत के साथ ही विदेशों में भी छुट्टियों एवं यात्राओं का प्रबंध करते हैं। बिहार की संस्कृति से लोगो को रूबरू करवाने के लिए विभिन्न हॉलिडे पैकेज बनाये हैं। इस कंपनी का मुख्य उद्देश्य लोगो को दूसरी संस्कृति के बारे में बताना और उससे जोड़ना हैं।

बी पॉजिटिव इंडिया से बातचीत के दौरान रोमित रंजन बताते हैं कि आठ-नौ साल ट्रेवल इंडस्ट्री में बिताने के बाद खुद का काम शुरू करने का फैसला किया। बिहार हमेशा से ही दिल में बसा रहा और यहाँ की संस्कृति और विरासत को लोगो के सामने लाने के लिए खुद की स्टार्ट-अप खोलने का निश्चय किया। बिहार टूरिज्म को प्रमोट करने के साथ ही लोगो को अन्य संस्कृति से जोड़ने के लिए 2017 में कंपनी की स्थापना की। तब से लोगो के हॉलिडे या यात्राओं के अनुभव को बेहतरीन बनाने के लिए काम कर रहा हूँ।

अपने संघर्ष के बारे में रोमित बताते है कि शुरुआती पढाई के बाद बिहार से दिल्ली तक का सफर संघर्षमय रहा। घर के आर्थिक हालात सामान्य थे तो घर से मदद मांगने के बजाय कॉल सेण्टर में नौकरी करने का निश्चय किया। दिन में कॉलेज और रात में कॉल सेण्टर पर काम किया। काम के साथ ही Algappa University से MBA किया और इसके बाद ट्रेवल इंडस्ट्री से जुड़ गया। इसके बाद कभी ज़िन्दगी में पीछे मूड़ कर नहीं देखा।

Trip planned by pahun
अपनी कंपनी के जरिये लोगो के यात्रा अनुभव की सुखद बना रहे हैं रोमित

एक जगह टिक कर बैठे रहना कभी भी पसंद नहीं रहा इसलिए कई कम्पनीज में काम करते हुए ट्रेवल इंडस्ट्री को समझने की कोशिश की। कई स्टार्ट-अप, बहुराष्ट्रीय कम्पनीज और इंडस्ट्री लीडर्स के साथ काम किया लेकिन सींखने की भूख हमेशा से रही है।

2017 में अकेले इस कंपनी की शुरुआत की लेकिन अब पांच लोगो की टीम है। आज कंपनी पटना के साथ ही दिल्ली और बैंगलोर में अपनी उपस्थिति दर्ज करवा चुकी हैं। लोगो के यात्रा अनुभव को बेहतरीन बनाने के साथ ही बिहार की संस्कृति को पहचान दिलाना हमारा लक्ष्य हैं। मेरा खुद का यात्रा का अनुभव भी शानदार रहा हैं और समय के साथ कई जगह पर यात्रा करने का मौका मिला। इसके साथ ही पाहून अपने ग्राहकों को ट्रिप में ई-बैग के साथ भेजती हैं जिससे कि ट्रिप के दौरान कचरे को इधर-उधर फेंकने के बजाय बैग में डाल सके। 

trip to click
ट्रिप टू क्लिक के जरिये नए फोटोग्राफर्स को मदद कर रहे हैं रोमित

इसके साथ ही रोमित रंजन ‘ट्रिप टू क्लिक‘ नाम से एक कंपनी चलाते है जिसके जरिये युवा फोटोग्राफर्स को ट्रैनिंग के साथ ही फोटोग्राफी ट्यूर का आयोजन किया जाता है जिससे कि पेशेवर फोटग्राफी सींखने में आसानी रहे।

स्टार्ट-अप के साथ ही रोमित रंजन समाज सेवा के क्षेत्र से भी जुड़े हुए हैं। मुज्जफरपुर में हाल ही में आये ‘चमकी बुखार या मस्तिष्क ज्वर (AES)‘ के बाद इन्होने अपने दोस्तों के साथ मिलकर सराहनीय काम किया हैं। सोशल मीडिया से पैसे जुटाकर इन्होने मरीजों और उनके परिजनों की सेवा करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। इसके साथ ही पर्यावरण सरंक्षण और प्लास्टिक के खिलाफ भी अपनी आवाज़ उठा चुके हैं। बदलाव की दिशा में उत्कृष्ट योगदान देने के लिए इन्हें ‘बदलाव के सारथी’ सम्मान से सम्मानित किया गया।

इसके साथ ही पर्यावरण सरंक्षण के लिए रोमित रंजन दिल्ली की संस्था ‘There is no Earth B‘ से जुड़े हुए है जो पर्यावरण में बदलाव और बढ़ते तापमान जैसे मुद्दों पर कई वर्षों से काम कर रही है। इसके साथ ही दिल्ली को स्वच्छ एवं प्रदुषणमुक्त बनाने के लिए प्रयासरत हैं। रोमित रंजन ने इस काम को दिल्ली के साथ ही पटना में भी करने का जिम्मा लिया हैं जिसके जरिये वो पटना को रहने योग्य एवं स्वच्छ बनाने की दिशा में काम करेंगे।

there is no Earth B
पर्यावरण सरंक्षण के मुद्दे पर भी काम कर रहे हैं रोमित रंजन सिंह

रोमित रंजन आगे बताते हैं कि सही आचरण रखे और सपने देखना न छोड़े। सही आचरण से भले ही आपको त्वरित सफलता न मिले लेकिन जीवन में आत्म-संतुष्टि जरूर मिलेगी। आप अगर सतत प्रयास करते रहेंगे तो अपने जूनून या सपने को पूरा जरूर करेंगे।

रोमित रंजन या पाहुन हॉली डे एवं हॉस्पिटाल्टी से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करे !

बी पॉजिटिव इंडिया, रोमित रंजन और पाहून हॉलीडेज के बिहार पर्यटन के लिए किये जा रहे सुधारों की प्रशंसा करता हैं और भविष्य के लिए शुभकामनाए देता हैं।

Comments

comments