अनिल कपूर की ‘नायक’ फिल्म देखी है। इस फिल्म में वो एक दिन के लिए मुख्यमंत्री बनते हैं। दरअसल, असल जिंदगी में भी कुछ ऐसा ही हुआ, लेकिन कहानी थोड़ी अलग है। 7 मई को ISC (इंडियन स्कूल सर्टीफिकेट) बोर्ड के 12वीं कक्षा के नतीजे घोषित हुए। इनमें रिचा शर्मा नाम की छात्रा ने 99.25 फीसदी अंक हासिल किए। इतने अंक के साथ वो देश की चौथी और अपने राज्य की टॉपर हैं। रिचा को सम्मानित करने के लिए ‘कोलकाता पुलिस विभाग’ ने उन्हें एक दिन के लिए डिप्टी कमिश्नर की जिम्मेदारी सौंपी।

 


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रिचा शर्मा ‘जी.डी.बिरला सेंटर फॉर एजुकेशन’ स्कूल की छात्रा हैं। आईएससी के नतीजे में उन्होंने 99.25 फीसदी अंक पाए। परीक्षा में उनके बेहतरीन प्रदर्शन को देखते हुए ‘कोलकाता पुलिस विभाग’ ने 8 मई को उन्हें ‘साउथ ईस्ट डिविजन’ का एक दिन का डिप्टी कमिश्नर बनाकर सम्मामित किया। बता दें, रिचा सुबह 6 बजे से लेकर दोपहर 12 बजे तक इस पद पर रहीं।

रिचा के पिता राजेश सिंह गरियाहाट थाने के एडिशनल ऑफिसर-इन-चार्ज हैं। यह पूछने पर कि क्या उनके पास अपने पिता के लिए कोई आदेश था, क्योंकि वो एक दिन के लिए उनकी भी बॉस थीं। इस पर रिचा ने कहा, ‘मैं उन्हें जल्दी घर लौटने का आदेश दूंगी।’

richa sharma
रिचा शर्मा को पदभार देते हुए कोलकाता पुलिस कमिश्नर

भविष्य के बारे पूछने पर रिचा ने बताया कि वो आगे की पढ़ाई इतिहास और सामाजशास्त्र में करना चाहेंगी। साथ ही, वो यूपीएससी की परीक्षा के बारे में भी सोच रही हैं।

इस पूरे वाकये पर रिचा के पिता कहते हैं, मैं अपनी खुशी जाहिर नहीं कर सकता। एक दिन के लिए वो मेरी बॉस है। उसने मुझे घर जल्दी आने का आदेश दिया है, जिसे आज में जरूर पूरा करूंगा।

बी पॉजिटिव इंडिया, रिचा शर्मा और कोलकाता के पुलिस विभाग के सराहनीय प्रयास की प्रशंसा करता हैं. हम उम्मीद करते हैं कि आप से प्रेरणा लेकर लोगो के जीवन में सकारात्मक बदलाव आएगा.

Comments

comments