देश में पर्यावरण के हालात को देखते हुए सरकार ने कदम बढ़ाने शुरू किये है. आम बजट में भी पर्यावरण और जल संसाधनों के सरंक्षण का जिक्र किया गया और देशव्यापी अभियान की बात की गयी. इसी बीच मध्यप्रदेश सरकार ने इस मानसून सीजन में एक करोड़ पेड़ लगाने का लक्ष्य तय किया है.

इस योजना के अंतर्गत सभी विभाग समन्वय के साथ सहायता करते हुए सालाना एक करोड़ पौधे लगाएंगे. इसके लिए विभागों को अपने बजट की एक फीसदी राशि देनी होगी. इसके लिए सरकार की तरफ से अलग से कोई बजट नहीं दिया गया है.

tree plantation in MP
आमजनों के साथ ही छात्र-छात्राओं को भी शामिल किया जायेगा | प्रतीकात्मक तस्वीर

सभी विभागों को मिलकर पांच सालों तक सालाना एक करोड़ पौधे लगाने होंगे. वहीं पेड़ काटने पर भी कड़े नियम बनाए जाएंगे. सरकार इस योजना को प्रभावी तरीके से लागू करने के लिए 172 करोड़ के कैंपा फंड का इस्तेमाल करेगी और जिला सरकार के एजेंडे में भी इसे शामिल किया जाएगा.

इसके साथ ही नगरीय निकायों में हार्टिकल्चर का कांसेप्ट लाने और छात्रों को वृक्ष मित्र बनाकर पौधे लगवाने पर जोर दिया जाएगा. जो छात्र वृक्ष मित्र नहीं बनेंगे उनकी डिग्रियां रोकने पर विचार किया जा रहा है. सरकार पांच ब्लॉक के बीच एक ईको-स्मार्ट विलेज तैयार करेगी. योजना को मूल रूप से पर्यावरण नियोजन एवं समन्वय संगठन (एप्को) ने तैयार किया है.

sanjay gandhi with kamalnath
संजय गाँधी के साथ मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमल नाथ

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ अपने बचपन के दोस्त स्वर्गीय संजय गांधी के नाम पर इस योजना को ‘संजय गांधी पर्यावरण मिशन‘ नाम दिया गया है. इस योजना को मिशन मोड पर चलाने के लिए लगातार निगरानी एवं समीक्षा की जाएगी. साथ ही लोगो को प्रेरित करने के लिए कम्युनिटी जंगलों को बढ़ावा दिया जायेगा.नदी तट के आसपास पौधारोपण करने पर इंसेटिव दिया जाएगा और पैसे का भुगतान समय पर सुनिश्चित किया जायेगा.

बी पॉजिटिव इंडिया, मध्यप्रदेश सरकार की इस पहल का स्वागत करता है और उम्मीद करता है कि वृक्षारोपण की इस पहल से पर्यावरण को बचाया जा सकेगा.

Comments

comments