स्वच्छता काम नहीं है बल्कि एक जीवनशैली है.

स्वच्छ भारत अभियान के बाद देश में स्वच्छता को लेकर एक लहर चली. आम आदमी से लेकर प्रधानमंत्री ने हाथ में झाड़ू पकड़कर देश को स्वच्छ बनाने का संकल्प लिया. इस मुहिम का असर भी दिखता है. सार्वजानिक स्थानों से लेकर बस अड्डा और रेलवे स्टेशन पहले की तुलना में साफ़ हुए है. आजकल सोशल मीडिया में एक कलेक्टर चर्चा में है जो नाली में उतरकर शहर की सफाई कर रहे है. वो भी दिखावे के लिए नहीं बल्कि पिछले कई दिनों से यह सिलसिला जारी है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मध्य प्रदेश में विदिशा के जिला कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह हाथ में फावड़ा लेकर खुद नाली में सफाई करने उतर गए. सोशल मीडिया पर उनका यह काम चर्चा का विषय बना हुआ है और लोग उनकी प्रशंसा कर रहे हैं. मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी अपने प्रदेश के अधिकारी के काम की तारीफ की है.

cleaning in city
स्थानीय लोगो के साथ सफाई करते कलेक्टर | तस्वीर साभार : इंटरनेट

विदिशा कलेक्टर ने स्वच्छ भारत अभियान से आगे बढ़ते हुए एक अनोखी मिसाल पेश की है. निगम और सफाई के कर्मचारियों को दिशा-निर्देश देने के बजाय वह अपने हाथ में फावड़ा और तसला लेकर खुद नाली में सफाई करने उतर पड़े. कलेक्टर साहब को सफाई करते देख कर्मचारी और आम आदमी भी उनके साथ जुड़ गए और नाले की सफाई में जुट गए.

शहर के लोगों का कहना है कि कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह इन दिनों रोज ऐसा करते हैं. वे हर रोज शहर की सड़क किनारे की नालियों की सफाई करते नजर आते हैं. उनके हाथ में फावड़ा होता है. जबकि साथ ही वे नालियों से निकलने वाले कचरे को तसले में भरकर फेंकते हैं.

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह की तारीफ की है. कमलनाथ ने ट्वीट कर लिखा, ‘विदिशा कलेक्टर व उनकी टीम द्वारा सफाई व्यवस्था को लेकर किया जा रहा कार्य सराहनीय व प्रशंसनीय है. यह दूसरों के लिए प्रेरक भी है. महात्मा गांधी जी का यही संदेश है कि कोई कार्य छोटा नहीं होता है, ठान लिया जाए तो हर चीज संभव है.’

 

कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने मीडिया से बातचीत में कहा कि कर्मचारियों को डांट डपटकर सिर्फ औसत दर्जे का काम लिया जा सकता है, मगर प्रोत्साहन और स्वयं की सहभागिता से नतीजे निकाले जा सकते हैं. जो काम समाज के लिए करना है, उसमें समाज को साथ लेकर ही अच्छे से किया जा सकता है.

बी पॉजिटिव इंडिया, कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह के कार्यों की सराहना करता है और उम्मीद करता है कि आप से प्रेरणा लेकर मध्य-प्रदेश के साथ ही देश में स्वच्छता को लेकर जागरूकता आएगी और जनभागीदारी बढ़ेगी.

Comments

comments