चंद्रयान-2 सोमवार दोपहर 2.43 बजे श्रीहरिकोटा (आंध्रप्रदेश) के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से लॉन्च हुआ। प्रक्षेपण के 17 मिनट बाद ही यान सफलतापूर्वक पृथ्वी की कक्षा में पहुंच गया. इस मौके पर इसरो के चेयरमैन के सिवन ने कहा कि रॉकेट की गति और हालात सामान्य हैं.

लगभग 3,84,000 किलोमीटर का सफर तय करके विक्रम लैंडर चांद पर 48वें दिन लैंड करेगा. ‘चंद्रयान-2’ की लागत 14.1 करोड़ डॉलर है, जोकि संयुक्त राज्य अमेरिका के ‘अपोलो प्रोग्राम’ की लागत 25 अरब डॉलर से कई गुना कम हैं. देश ने इससे पहले ‘चंद्रयान-1’ 2008 में लॉन्च किया था. उसने चांद पर पानी को खोज निकला था. इसके साथ ही सोशल मीडिया पर ‘इसरो’ को जनता बधाई दे रही है.

चंद्रयान-2 लॉन्चिंग पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह देश के गौरवशाली इतिहास का सबसे खास पल बनेगा. यान की कामयाब लॉन्चिंग वैज्ञानिकों की अथक मेहनत और 130 भारतीयों की इच्छाशक्ति के कारण हुई. यह विज्ञान के नए आयाम खोलेगा. आज हर भारतीय गर्व महसूस कर रहा होगा.

इसके साथ ही सोशल मीडिया पर चुनिंदा पोस्ट्स जो इसरो के कमाल को सलाम कर रही हैं.

बी पॉजिटिव इंडिया, इसरो की पूरी टीम को चंद्रयान-2 के सफल प्रक्षेपण पर बधाई देता हैं और खुद को गौरान्वित महसूस कर रहा हैं.

Comments

comments