building dreams foundation Dehradun :

बदलाव की शुरुआत कही से भी हो सकती है. उसके लिए जरूरी नहीं है कि आपके पास संसाधन एवं पैसा पर्याप्त मात्रा में हो.

देहरादून के एक कॉलेज में लंच के दौरान दोस्तों के बीच में गरीब बच्चों के जीवन को संवारने के लिए चर्चा होती है. इस चर्चा में विभिन्न आयामों पर विचार किया जाता है और इसके बाद एक संस्था या एनजीओ की शुरुआत होती है जो कच्ची बस्ती और अनाथ आश्रम में रहने वाले बच्चों को भोजन एवं शिक्षा देने का काम करती है. नारी सशक्तिकरण और उनके रोज़गार के लिए कई कार्य किये जाते है. इस संस्था का नाम है : बिल्डिंग ड्रीम्स फाउंडेशन (Building Dreams Foundation).

देहरादून के एक कॉलेज में पढ़ने वाले छात्र-छात्रों ने समाज में बदलाव लाने के लिए 01 जून 2016 को इस संस्था की शुरुआत की. कॉलेज के पीछे ही रहने वाले गरीब बच्चों को मुफ्त में खाना और पढ़ाने का काम शुरू किया. अपने इंजीनियरिंग की तृतीय वर्ष की पढाई के दौरान रंजीत बर, सुरभि जायसवाल, हिमांशु पाठक, साहिल सरवर , अभिप्षा रावत, शीतल और जूही पांडेय ने इस पहल की शुरुआत की.

एक वृद्धाश्रम में BDF टीम

रणजीत ने एनजीओ के रजिस्ट्रेशन के लिए अपनी कॉलेज फीस खर्च कर दी और निजी कारणों के चलते उन्हें कॉलेज की पढाई भी छोड़नी पड़ी. लेकिन समाज के बदलाव के इन्होने पूरी जिमेदारी के साथ काम करने का निर्णय लिया.

बिल्डिंग ड्रीम्स फाउंडेशन की टीम ने शिक्षा, नारी सशक्तिकरण, पर्यावरण और उद्यमिता के लिए काम करना शुरू कर दिया. इन्होने सबसे पहले शिक्षा पर ध्यान दिया और देहरादून के भौवला में एक सेण्टर शुरू किया जिसमे प्रोजेक्टर के माध्यम से बच्चों को पढ़ाना शुरू किया. इसके साथ ही झुग्गी-झोपड़ियों के बच्चों का मुफ्त में मेडिकल चेक-अप और खाने-पीने का प्रबंध भी किया.

BDF द्वारा संचालित स्कूल में पढाई करते हुए बच्चे

एक सेण्टर से हुई शुरुआत अब चार एजुकेशनल सेण्टर में तब्दील हो चुकी है. साथ ही उन्होंने अनाथ आश्रम में भी बच्चों को पढ़ाना शुरू किया. इसके बाद उन्होंने एक नवधा स्कूल (Navadha School) के नाम से गरीब बच्चों के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने के लिए शुरू किया है.

इसके साथ इन्होने गरीब बच्चों को खाना खिलाने के लिए फ्री वीकली फ़ूड ड्राइव भी शुरू किया जिसके तहत हर रविवार को देहरादून के झुग्गी झोपड़ियों के बच्चों को मुफ्त में खाना बांटा जाता है. इनकी यह शुरुआत पिछले 19 हफ़्तों से अनवरत जारी है.

BDF द्वारा संचालित फ़ूड ड्राइव

इसके साथ ही गरीब बच्चों एवं सड़क पर सोने वाले बेघर लोगों को कपड़े भी बांटे गए है. महिलाओं को फ्री ट्रेनिंग देकर आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास भी किया जा रहा है.

बी पॉजिटिव से बातचीत में जूही पांडेय ने बताया कि यह संस्थान गरीबों की सेवा के लिए समर्पित है और हम उनकी सेवा में हमेशा लगे रहेंगे. इस संस्थान का उद्देश्य गरीब बच्चों को शिक्षा एवं बेहतर स्वास्थ्य देना है. यह संस्थान टीम के लोगों के द्वारा मिल रही मदद से चल रहा है. टीम के दोस्त एवं परिवारजनों के सहयोग से कई महत्वपूर्ण योजनाओं पर काम हो रहा है.

बच्चों के लिए खाना बनातीं BDF टीम

बिल्डिंग ड्रीम्स फाउंडेशन की भविष्य की योजनों के बारे में जूही पांडेय ने बताया कि पुरे भारत में मुफ्त में शिक्षा देने के लिए स्कूल खोलने की योजना है. इसी के साथ कम्युनिटी फ्रिज की तर्ज पर लोगो के शादी-समारोह में बचने वाले खाने को जरूरतमंदो के पास पहुँचाने की योजना पर भी काम हो रहा है. गरीब बच्चों के बेहतर स्वास्थ्य और खान-पान की जरूरतों को भी पूरा किया जायेगा.

अगर आप भी इस संस्थान की मदद करना चाहते है तो बैंक अथवा पेटीएम के माध्यम से कर सकते है.

Punjab National Bank
Account Name – Building Dreams Foundation
Account Number – 5955002100000708
IFSC  – PUNB0595500

Paytm/PhonePe/Google Pay/BHIM account number – 7078386765

अधिक जानकारी के लिए इनकी वेबसाइट पर जा सकते है : http://www.buildingdreams.org.in

Comments

comments