एक सड़क दुर्घटना होती है जिसमे एक व्यक्ति घायल हो जाता है और उसके बाद उसकी कमर में फ्रैक्चर हो जाता है । डॉक्टर्स उस व्यक्ति को आराम करने की सलाह देते है तथा इस आदमी के लिए बिस्तर पर लेटे रहना मुश्किल हो जाता है क्योंकि वो व्यक्ति अपनी दैनिक दिनचर्या में खासा सक्रिय रहता है । चोट के बाद आराम के दौरान लोग काफी परेशान हो जाते है लेकिन इस युवा ने अपने इस समय का बेहतरीन उपयोग करने का विचार बनाया । चोट से रिकवरी के दौरान उन्हें फलों के जूस तथा फल खाने की सलाह डॉक्टर्स द्वारा मिली । उसने कई पैकेज्ड जूस भी पिए लेकिन उन्हें वो प्राकृतिक स्वाद नहीं आया जो कि ताजा फलों से बने जूस से आता है ।

यह भी पढ़ेनौकरी छोड़ चाय बेचकर करोड़ो कमाने वाले दोस्तों का दिलचस्प सफर

बस इसी समस्या के हल के लिए वो रिसर्च में जुट जाता है और कई दिनों कि मेहनत और रिसर्च के बाद उन्हें ताजा फलों से जूस बनाने का तरीका निकालता है और बिना केमिकल्स के वो अपने जूस को कई दिनों तक सुरक्षित रख पाने में सक्षम हो जाता है । इसी आईडिया के बाद वो अपनी खुद की कंपनी खोलता है और लगभग चार साल बाद उसकी कंपनी सालाना 250 करोड़ रुपये कमाती है । अपने आईडिया को शानदार बिज़नेस ब्रांड में तब्दील करने वाले युवा उद्यमी का नाम है – अनुज राक्यान (Anuj Rakyan)

अनुज ने अपने खाली समय का बेहतरीन उपयोग करते हुए एक बेहतरीन आईडिया निकाला और 2014 में “RAW Pressery ” नाम से एक शीतल पेय ब्रांड बना डाला । उनकी कम्पनी एक नवीनतम तकनीक का इस्तेमाल करती है जिससे उन्हें अपने शीतल पेय में कोई खाद्य सरंक्षक केमिकल नहीं मिलाना पड़ता है तथा उनका जूस 21 दिनों तक फ्रिज में रह सकता है तथा आपको ताज़ा फलों का आनंद देता है ।

यह भी पढ़ेगांव से आने वाले दो भाइयों ने 500 रुपये के निवेश से करोड़ो रुपये की कंपनी बना दी

अनुज ने अपनी ग्रेजुएशन की पढाई अमेरिका के नार्थ करीलोना की प्रसिद्ध Duke University से पूरी की । ग्रेजुएशन के बाद उन्होंने मार्केटिंग के गुर सीखने के बाद विश्व की जानी-मानी कंसल्टेंसी फर्म मॉर्गन स्टेनली में बतौर वित्तीय सलाहकार के रूप में कार्य किया ।

अमेरिका में कुछ साल काम करने के बाद अनुज भारत लोट आये और उन्होंने भारत के अग्रणी रिटेल ब्रांड फ्यूचर ग्रुप को बतौर ब्रांड कंसलटेंट के रूप में ज्वाइन किया । फ्यूचर ग्रुप में काम करने के दौरान उन्होंने उसके विस्तार एवं मार्केटिंग में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई । अनुज ने उसके बाद डायमंड और सोने-चांदी का व्यापार करने वाली गीतांजलि जेम्स में काम किया और कुछ साल के बाद उन्होंने एक अन्य ज्वेलरी फर्म में भी काम किया ।

अपनी कंपनी खोलने के लिए अनुज ने पहले मार्केट का गहन रिसर्च किया और लोगों के सामने आ रही समस्याओं के हल खोजने की कोशिश में लग गए । शीतल पेय पदार्थों में उस समय पेप्सी , कोका-कोला जैसे ब्रांड्स पहले से बाजार में उपलब्ध थे लेकिन अनुज ने आईडिया से नवीनीकरण करते हुए एक झटके से उन्होंने इन विश्वस्तरीय ब्रांड्स को अपने रास्ते से हटा लिया । अनुज ने कोल्ड प्रेस्ड तकनीक का इस्तेमाल करते हुए बिना खाद्य सरंक्षक के जूस को 21 दिन तक चलने का उपाय ढूंढ लिया ।

यह भी पढ़ेउधार के लिए पैसे से ट्रक खरीद कर 2000 करोड़ की ट्रांसपोर्ट कंपनी बनाने वाला उद्यमी

अनुज ने प्राकृतिक पदार्थों के महत्त्व को ध्यान में रखते हुए अपने जूस में शत प्रतिशत नेचुरल और स्वास्थ्यवर्धक के साथ ही टेस्टी प्रोडक्ट्स बनाने का काम किया । मशीनरी और अपने प्लांट को चलाने के लिए उन्होंने दोस्तों और परिवार वालों से लगभग 70 लाख रुपये उधार लिए तथा अपने प्लांट को चलाने में लग गए ।

यूनिक आईडिया और शत प्रतिशत नेचुरल प्रोडक्ट्स के कारण अनुज का बिज़नेस चल निकला और उन्होंने अपना पूरा ध्यान अपना बिज़नेस बढ़ाने में लगा दिया । अपनी अलग सोच तथा जबरदस्त मार्केटिंग के चलते उन्होंने अपने प्रोडक्ट्स की डेलिवरी के लिए मुंबई के डब्बावाला का भी इस्तेमाल किया जिससे उन्हें शुरुआत में पैसे बचाने में काफी मदद मिली ।

बिज़नेस की लगातार सफलता और अपने यूनिक आईडिया के चलते जल्द ही भारत के निवेशकों ने अनुज की कंपनी में निवेश किया । निवेश से मिले फण्ड से अनुज ने एशिया कि पहले HPP बेस्ड मशीन अपने प्लांट में लगायी जिससे उच्च गुणवत्ता वाले प्रोडक्ट्स के साथ ही अपने बिज़नेस को बढ़ाने में फायदा मिला ।

यह भी पढ़ेविरासत में मिली एक गाय और भैंस से डेयरी फार्म बनाकर महीने के लाखों कमाता किसान

अनुज ने 6 फ्लेवर के साथ अपना जूस ब्रांड लांच किया जो कि अब लगभग 30 फ्लेवर  के साथ ही चार केटेगरी वाला जूस ब्रांड बन गया है । अभी अनुज की कंपनी भारत के दस प्रमुख शहरों में लगभग 1000 आउटलेट्स के साथ मौजूद है और अनुज अभी अपनी कंपनी के अफ्रीका और अरब देशों में विस्तार पर काम कर रहे है ।

अपनी जबरदस्त रणनीति के साथ ही वो अपने रिटेलर्स से बिना बिका हुआ माल भी वापस लेते है जिससे कि उन्हें ज्यादा नुक्सान नहीं उठाना पड़े । जबरदस्त स्वाद और उच्च गुणवत्ता के चलते अनुज की कंपनी ने शीतल पेय क्षेत्र में अपनी धाक जमा दी है । 2014 में एक छोटी सी शुरुआत के बाद उनकी कंपनी आज लगभग 2000 लोगो को प्रत्यक्ष और लगभग 5000 लोगों को अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार दे रही है । अनुज इसके साथ ही गरीब बच्चों की पढाई के लिए भी खर्च करते है ।

यह भी पढ़ेसेल्समेन की नौकरी छोड़कर ओडिशा की प्रथम ऑनलाइन इवेंट बुकिंग कंपनी बनाने वाला उद्यमी

अनुज ने अपनी मार्केटिंग प्रतिभा और नवीनीकरण के दम पर आज बड़ा ब्रांड खड़ा कर दिया है जिसकी ब्रांड एम्बेसडर बॉलीवुड अभिनेत्री  जैकलीन फर्नांडीस (Jacqueline Fernandez)  है । अभी वो अन्य पैकेज्ड खाद्य पदार्थों में भी अपने प्रोडक्ट्स उतारने के लिए काम कर रहे है ।

Be Positive अनुज के कभी न हार न मानने वाले जज्बे को सलाम करता है तथा उम्मीद है कि इस कहानी से युवा उद्यमियों को प्रेरणा मिलेगी और वो भी हमारे देश निर्माण में अपना योगदान दे सकेंगे ।

यह भी पढ़ेआर्गेनिक प्रोडक्ट्स ऑनलाइन बेचकर अपने गांव की दिशा बदलता युवा किसान उद्यमी

Comments

comments